TikTok में AI की क्या भूमिका है ?

  • AS Team
  • May 27, 2020
  • Artificial Intelligence
TikTok में AI की क्या भूमिका है ? title banner

युवाओं के बीच तेजी से पहचान बना रहा वीडियो शेयरिंग एप TikTok इस समय बाजार की नई सनसनी है। किसी भी विषय पर 15 सेकंड तक का वीडियो इस ऐप के माध्यम से शेयर किया जा सकता है। शौकिया तौर पर अलग-अलग विषयों पर युवा वीडियो बनाकर इस ऐप के माध्यम से सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर शेयर कर रहे हैं।

 


अगर आप यह ब्लॉग इंग्लिश में पढ़ना चाहते है तो यहाँ क्लिक करे - “How is Artificial Intelligence (AI) Making TikTok Tick?


TikTok क्या है

 

TikTok ऐप के जरिए खासतौर से युवा अलग-अलग विषयों पर कोई फनी, गाना या अलग अलग चीजों को एक साथ मिलाकर वीडियो बनाते हैं। साथ ही तरह-तरह के चैलेंज भी यहां पर आपको मिलेंगे। इस ऐप को लिप्सिंग फीचर ने सबसे ज्यादा पहचान दिलाई लेकिन जल्द ही कई और विषय जैसे जिमनास्टिक, संगीत, डांसिंग, हास्य जैसे क्षेत्रों में भी अपनी पहुंच बनाई। या ऐप मीम्स के कारण भी लोकप्रिय हो रहा है उसी के अंदर गाना कई तरह के म्यूजिक जैसे रैप, पॉप, डीजे ट्रैक सब एक साथ डाला जा सकता है। वह भी 15 सेकंड के वीडियो में साथ ही कई तरह के इफेक्ट्स और फिल्टर्स का भी इस्तेमाल होता है।


TikTok के आँकड़े

TikTok के आँकड़े, Source  - Wallaroo Media


लेकिन क्या आप जानते हैं इस ऐप को इतना लोकप्रिय बनाने में किस टेक्निक का सबसे ज्यादा योगदान है? और इसका उत्तर है Artificia Intelligence टेक्नोलॉजी जो इस ऐप को सरल, सुलभ, तथा बहुआयामी बना देता है।

 

Artificial Intelligence क्या है ?

 

साधारण इंसान की भाषा में समझे तो मानवीय समझ या बुद्धिमता को प्रोग्रामिंग के जरिए मशीन में रूपांतरित कर देना तथा मशीन का इस्तेमाल इंसान की तरह सोचने के लिए करना। इस परिभाषा को इस तरह से समझ सकते हैं कि वह मशीन या सॉफ्टवेयर जो इंसान ही गुणों को प्रदर्शित करता हो।

 

Artificial Intelligence समस्याओं को सुलझा सकता है, नई चीजें सीख सकता है, धारणाओं को समझ सकता है, अलग-अलग भाषाओं को अपना सकता है, तथा बातों को तार्किकता से देख सकता है।

 

AI के Examples ?

 

हमारे दैनिक जीवन में Artificial Intelligence (AI) का कई क्षेत्रों में इस्तेमाल होता है। आधुनिक दुनिया में Artificial Intelligence का इस्तेमाल कैसे होता है इन चीजों को समझने के लिए कुछ बिंदु बनाते हैं।

 

1. सोशल मीडिया

 

Linkedin: इस्तेमाल अपने एंप्लॉय के मैचिंग के लिए  करता है ताकि बेहतर कामगार मिल सके।

Pinterest: एक तरह के तस्वीरों का चयन करने के लिए |

Facebook: अपने यूजर्स पर नजर रखने के लिए कि वह खुद को हानि पहुंचाने की योजना तो नहीं बना रहे और अगर हां तो उन तक मदद पहुंचाना।

 

2. परिवहन

 

स्वतः संचालित वाहनों का विकास के लिए भी AI का इस्तेमाल होता है। Tesla (हमारा Tesla के ऊपर लिखा blog यहाँ पढ़े)  जैसी कंपनी AI  के जरिए खुद से चलने वाले वाहन बनाने की तरफ अग्रसर है।

 

3.  स्मार्टफोन

 

हम रोज ही दो-चार होते हैं AI से, अपने स्मार्टफोन के जरिए। ऐप जो हम अपने फोन में डाउनलोड करते हैं, Google  असिस्टेंट, यहां तक की Spotify  और Apple  म्यूजिक जैसे ऐप भी AI का इस्तेमाल ग्राहकों की जरूरत को समझने के लिए करते हैं।

 

4. स्वास्थ्य सुविधा

 

एक नैतिक कार्य के लिए भी Aritificial Intelligence  की मदद ली जाती है, दुनिया भर में रोगियों की मदद इस टेक्नोलॉजी से होती है। Cola Life  की कंपनी पूरी तरह से डिजिटल मशीन का इस्तेमाल कार्डियक बीमारियों को समझने के लिए करती है।

 

 

Artificial Intelligence TikTok में

 

विज्ञापन में TikTok को अनेक लोगों तक पहुंचा दिया है उसके बाद काम आता है AI जो उपयोगकर्ताओं को इसका आदी बना देता है। मुख्य रूप से TikTok दो तरह के AI का इस्तेमाल करता पहला उपयोगकर्ता (Consumer) की नजर से दूसरा निर्माता (Producer)  की नजर से।

 

उपयोगकर्ता: TikTok का इन Artificial Intelligence व्यक्ति की पसंद को जल्द ही भांप लेता है। यूजर के लाइक और कमेंट दोनों को समझता है साथ ही कितनी देर कौन सी वीडियो यूज़र ने देखा है और इसकी मदद से एक मजबूत डाटा बेस तैयार कर लेता है।

 

प्रोड्यूसर: वायरल वीडियो बनाने में भी AI मदद करता है। यह वीडियो एडिटिंग को आसान बना देता है साथ ही फिल्टर, हैशटैग, आदि चीजों के चयन में मदद करता है।

 

यह सिर्फ वीडियो बनाने में ही मदद नहीं करता बल्कि कैसे उसे और लोगों तक भेजा जाए यह भी बताता है। यूजर को ज्वाइन करते समय अपनी पसंद बताना जरूरी नहीं होता ।


AI उपभोक्ता और निर्माता की तरफ से TikTok का समर्थन कर रहा है

AI उपभोक्ता और निर्माता की तरफ से TikTok का समर्थन कर रहा है


TikTok के AI का एल्गोरिदम इतना बेहतरीन है कि अपने यूजर्स के बिहेवियर और पसंद को देखकर वीडियो भेज देता है। बहुत कम समय में इस बात को समझ लेता है की यूज़र किस तरह के वीडियो को पसंद करेगा और उस हिसाब से वह वीडियो यूज़र तक पहुँचाता है। TikTok यूज़र के दोनों अनुभवों को समझ लेता है नकारात्मक भी और सकारात्मक अगर वीडियो को स्वाइप कर देता है तो इसका मतलब है वह उसे पसंद नहीं कर रहा और यह बात बहुत ही कम समय में server तक पहुंचा दी जाती है।

 

जैसा कि केवल सिफ़ारिशें देने के लिए AI एल्गोरिदम को तुरंत अपने उपयोगकर्ता के व्यवहार की व्याख्या करने और इन व्याख्याओं के आधार पर सामग्री वितरित करने के लिए प्रेरित किया जाता है।

 

बहुत कम समय में, वे उल्लेखनीय रूप से स्पॉट-ऑन भविष्यवाणियों को बनाने के लिए पर्याप्त अवशोषित करते हैं, जिसके बारे में वीडियो उपयोगकर्ता के हित को पकड़ेंगे।  यह, बदले में, उपयोगकर्ता के जुड़ाव को बढ़ाता है।

 

TikTok का फुल-स्क्रीन डिज़ाइन प्रत्येक वीडियो को अपने उपयोगकर्ताओं से सकारात्मक और नकारात्मक दोनों संकेतों की व्याख्या करने की अनुमति देता है।  पॉजिटिव सिग्नल को वीडियो को पसंद करने, अनुसरण करने या अंत तक देखने से वंचित किया जाता है।

 

एक नकारात्मक संकेत दर्शक को दूर स्वाइप करने या वीडियो पर नीचे दबाने से विघटित होता है।  सिग्नल की व्याख्या उस गति से भी की जाती है जिस पर उपयोगकर्ता वीडियो को स्वाइप करते हैं।

 

क्या TikTok, Netflix, Facebook और YouTube के रूप में एल्गोरिदम को लागू करने वाले अन्य प्लेटफार्मों से बाहर खड़ा करता है, यह प्लेटफ़ॉर्म पूरी तरह से समझाता है, और निर्णय लेता है कि उपयोगकर्ता Netflix और YouTube जैसे उपयोगकर्ताओं की सिफारिशों की सूची पेश करने के बजाय क्या देखेगा।

 

फिर भी एक वरदान के साथ, AI की शक्ति भी अपने उपयोगकर्ताओं और निवेशकों के लिए एक सेंसरशिप साबित हुई है।

 

उच्च शक्ति वाली तकनीक से बाधाओं और बाधाओं का एक बड़े हो जाना  अक्सर गलत चीजें बन जाती हैं और वही दूसरे उपयोगकर्ताओं तक भी पहुंच जाती है।

 

  1. चीन में, ByteDance, TikTok की मूल कंपनी ने अश्लील सामग्री और धोखाधड़ी वाले विज्ञापनों के चलते बड़े स्तर पर जुर्माना राशि सरकार को अदा की है।

 

  1.  कंपनी पर यह भी आरोप लगाया गया कि उसने 13 वर्ष से कम आयु के उपयोगकर्ताओं का व्यक्तिगत डेटा अभिभावक की सहमति के बिना एकत्र किया, जिससे 5.7 मिलियन अमेरिकी डॉलर का जुर्माना लगाया गया। संघीय व्यापार आयोग के एक बयान के अनुसार, कंपनी ने अपनी इच्छा से से बच्चों की कीमत पर भी विकास को आगे बढ़ाने के लिए" चुना।

 

  1. TikTok को भारत और इंडोनेशिया के ऐप स्टोर से अस्थायी रूप से प्रतिबंधित कर दिया गया था, क्योंकि ऐप पर फ़र्ज़ी और अवैध सामग्री को प्रोत्साहित करने का संदेह था।

 

फिर भी फर्म ने इसके समाधान के लिए उपकरण के रूप में अपने परिमार्जन के बहुत कारण को चैनलाइज करने का काम किया है।  AI और मानव सेंसरशिप का एक अनूठा हाइब्रिड बनाना, इसने AI-आधारित टूल के माध्यम से वीडियो की निगरानी करने का प्रयास किया है।

 

अभी भी सिर्फ 99% प्रभावी होने के बावजूद, समाधान इंडोनेशिया सहित अन्य देशों में स्थानीय सामग्री निगरानी इकाइयों की स्थापना करने वाली फर्म के साथ वैश्विक हो गया है, जहां 20 कर्मचारी अब स्थानीय नियमों और सांस्कृतिक मूल्यों के आधार पर वीडियो फ़िल्टर करता है।

 

 

निष्कर्ष

 

 जैसा कि एक जाने-माने चीनी निवेशक Connie Chan ने बताया है की

 “TikTok पहला इतना प्रसिद्ध ऐप है जहां AI एक प्रोडक्ट की तरह इस्तेमाल होता है जो कि एक बड़े बदलाव को दर्शाता है।”

TikTok के उदय ने AI की मदद से धीरे-धीरे एक नया युग शुरू किया है।  इस ऐप से प्राप्त जानकारियों की मदद से उपयोगकर्ताओं के लिए एक बेहतर और प्रभावी सुविधा को लागू किया जा सकता है। जैसा कि समाचार, संगीत, स्ट्रीमिंग ऐप, खुदरा क्षेत्र आदि में हो सकता है। 

 

यह ऐप इस समय Artificial Intelligence को और ज्यादा बेहतर बनाने की दिशा में कार्यरत है जिससे तेजी से बदलती इस दुनिया में बड़े और अच्छे बदलाव किए जा सकते हैं। इन बातों से यह समझा जा सकता है की TikTok के बाजार में इतनी बड़ी पहचान बनाने में AI का बहुत बड़ा योगदान है साथ ही अगर AI का इस्तेमाल होशियारी से किया जाए तो उसे नियंत्रित भी किया जा सकता है और बेहतर दिशा में काम भी हो सकता है और वह विश्वसनीय भी बना रहेगा।


यह लेख AI पर TikTok के उदय के पीछे ड्राइविंग बल होने के कारण प्रकाश डालता है और साथ ही उस कृत्रिम बुद्धिमत्ता की स्थापना करता है, जिसमें सीसा रहित क्षमता और गतिशीलता को धारण किया जाता है और इसे सुरक्षित और विश्वसनीय होने के लिए सटीक रूप से नियंत्रित और नियंत्रित किया जाता है। एनालिटिक्स के अधिक ब्लॉगों के लिए Analytics Steps अगले चरणों को पढ़ें।

0%

Comments